30.8 C
Bhind
July 18, 2024
Headlines Today 24
उज्जैनधर्ममध्यप्रदेश

श्रावण के पहले सोमवार पर कीजिये बाबा महाकाल की भस्मारती और श्रृंगार दर्शन

यूं तो बाबा महाकाल के दरबार में भक्तों का तांता हमेशा ही लगा रहता है। लेकिन श्रावण मास भगवान भोलेनाथ की आराधना के लिए विशेष महत्व का बताया गया है। जबकि सोमवार भगवान भोलेनाथ का दिन कहा जाता है।

ऐसे में श्रावण मास का पहला सोमवार होने के कारण आज सुबह से ही शिव मंदिरों में भक्तो का ताँता लगा हुवा हे। उज्जैन के महाकालेश्वर मन्दिर में दर्शन हेतु श्रद्धालु देर रात से ही कतार में लगे रहे। तडके 2.30 बजे बाबा महाकाल की भस्मारती शुरू हुई, जिसके हजारों श्रद्धालुओं ने दर्शन लाभ लिए। श्रावण मास भगवान भोलेनाथ का सबसे प्रिय माह माना गया है। मान्यता है की श्रावण माह में शिव आराधना करने से सभी कष्टो से तुरन्त मुक्ति मिलती है।

महाकाल बाबा की भस्म आरती

श्रावण के पहले सोमवार के दिन आज महाकालेश्वर मंदिर में बाबा महाकाल की विशेष भस्मारती की गई। भस्मारती के पहले बाबा को जल से नहलाकर महा पंचामृत अभिषेक किया गया। जिसमे दूध ,दही ,घी ,शहद व फलो के रसो से अभिषेक हुआ। अभिषेक के बाद भांग और चन्दन से भोलेनाथ का आकर्षक श्रंगार किया गया और भगवान को वस्त्र धारण कराये गए। तत्पशचात बाबा को भस्म चढाई गई। भस्मिभूत होने के बाद झांझ-मंजीरे, ढोल-नगाड़े व शंखनाद के साथ बाबा की भस्मार्ती की गई। भक्त आज के दिन का विशेष इंतजार करते हैं। इसलिए आज महाकाल के दरबार में सुबह से ही उत्साह और आनंद का माहोल हे।

श्रावण के प्रथम सोमवार को बाबा महाकाल का विशेष श्रंगार
Headlines Today 24

Related posts

कांग्रेस ने की 144 प्रत्याशियों की पहली सूची जारी

Headlines Today24

चुनाव नजदीक, अब दावेदार जुटे टिकिट के लिए हथकंडे अपनाने में, पार्टियां भी टिकिट देने को लेकर सचेत

Headlines Today24

इस शनि मंदिर में कुत्ता भी होता है आरती में सम्मिलित, कुत्ते को आरती करते देख हैरान रह जाएंगे आप…

Headlines Today24